क्योंकी हम भीम के बन्दे है..

- December 27, 2016
नहीं ज़ुकेंगे नहीं सहेंगे, आगे ही बढ़ते जायेंगे
क्योंकी हम भीम के बन्दे है,

नहीं सहेंगे जुल्मो को हम, अब नहीं सहेंगे अत्याचार
क्योंकी हम भीम के बन्दे है,

करेंगे कुछ एसा काम, के बाबा का हो रोसन नाम,
क्योंकी हम भीम के बन्दे है,

देश तो आज़ाद हुआ पर हमें आज़ादी नहीं मिली,
आज़ादी के लिए हम आपनी जान गवाएंगे,
क्योंकी हम भीम के बन्दे है,

अन्ध्रश्रद्धा और ब्राम्ह्न्वादी वर्ण-व्यवस्था को हटायेंगे
क्योंकी हम भीम के बन्दे है,

करेंगे हम आपने प्राण न्योछावर “भीम” के लिए,
जिन्होंने हमें जीने की राह दिखाई,
क्योंकी हम भीम के बन्दे है.




- केवलसिंह राठोड